Banner
x

T20 World Cup: रवि शास्त्री ने दी बेहद इमोशनल स्पीच, खिलाड़ियों के प्रदर्शन को सराहा

बीते कल नामीबिया के खिलाफ संपन्न हुए मैच के बाद रवि शास्त्री का भारतीय टीम के लिए बतौर कोच कार्यकाल समाप्त हो चूका है. उन्होंने मैच के उपरांत खिलाड़ियों के समक्ष एक बेहद ही इमोशनल स्पीच दी.

दुबई: आईसीसी पुरुष T20 वर्ल्ड कप 2021 (ICC Men's T20 World Cup 2021) से भारतीय टीम (Indian Team) का सफर समाप्त हो चूका है. टीम इंडिया ने इस टूर्नामेंट में कुल पांच मैच खेलते हुए तीन जीत हासिल किए, लेकिन यह सेमीफाइनल में प्रवेश करने के लिए पर्याप्त नहीं था. दरअसल ग्रुप B से पड़ोसी देश पाकिस्तान (Pakistan) (10 अंक) और न्यूजीलैंड (New Zealand) (आठ अंक) की टीम 'सुपर 12' मुकाबलों में भारतीय टीम से ज्यादा अंक हासिल करने में कामयाब रही. नतीजन उन्हें सेमीफाइनल का टिकट मिला.

T20 वर्ल्ड कप 2021 कई मामलों में भारतीय टीम के लिए यादगार और इमोशनल रहा. दरअसल इस टूर्नामेंट के बाद भारतीय 33 वर्षीय पूर्व कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) अब T20 प्रारूप में कभी भारतीय टीम की अगुवाई करते हुए नजर नहीं आएंगे. वहीं भारतीय खिलाड़ियों को अब रवि शास्त्री (Ravi Shastri) का दिशानिर्देश भी प्राप्त नहीं होगा. शास्त्री ने T20 वर्ल्ड कप 2021 शुरू होने से पहले ही घोषणा कर दी थी कि यह वर्ल्ड कप बतौर कोच उनका आखिरी टूर्नामेंट होगा.

बीते कल नामीबिया के खिलाफ संपन्न हुए मैच के बाद उनका भारतीय टीम के लिए बतौर कोच कार्यकाल समाप्त हो चूका है. उन्होंने मैच के उपरांत खिलाड़ियों के समक्ष एक बेहद ही इमोशनल स्पीच दी. उन्होंने वहां उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा, 'आप लोगों ने बतौर टीम मेरी उम्मीद से बढ़कर प्रदर्शन किया है. पिछले कुछ सालों में हमने दुनियां के हर कोने में विजय हासिल की. हम हर प्रारूप में जीते और अपनी विपक्षी टीम को शिकस्त दी, जो आपको भारतीय क्रिकेट के इतिहास में महान बनाता है.'

उन्होंने आगे बात करते हुए कहा, 'परिणाम बयां कर रहा है हमने पांच-छह सालों में कैसा प्रदर्शन किया है. हां, हमारे लिए यह टूर्नामेंट अच्छा नहीं गुजरा. हम आईसीसी के एक दो टूर्नामेंट्स जीत सकते थे, लेकिन ऐसा न हो पाया और यही खेल है. आपको आगे फिर मौके मिलेंगे. अगले मौकों के दौरान आप ज्यादा समझदार और अनुभवी होंगे.'

उन्होंने आगे बात करते हुए कहा, 'मेरे लिए जिंदगी का मायने यह नहीं है कि आप क्या हासिल करते हैं, बल्कि यह है कि आप किस तरह से मुश्किल परिस्थितियों से उपर उठते हैं.' इस भावुक स्पीच के बाद उन्होंने वहां उपस्थित सभी खिलाड़ियों को गले लगाया और उनका उत्साहवर्धन किया.


Download our App for more Tips and Tricks

SHARE

FB TW TW TL ML COPY
Link Copied
Banner Ad
x