Banner
x

वेस्टइंडीज के खिलाड़ी के सिर पर लगी गंभीर चोट, रमन लांबा हुई थी मौत

रमन लांबा को 1998 में शॉर्टलेग पर फील्डिंग करते हुए चोट लगी थी और वही चोट बाद में उनकी मौत का कारण बनी. वे बंगबंधु स्टेडियम में ढाका क्लब क्रिकेट मैच में शॉर्ट लेग पर बिना हेलमेट के फील्डिंग कर रहे थे.

श्रीलंका(Srilanka)और वेस्टइंडीज (Westindies) के खिलाफ जारी टेस्ट मैच में एक दुखद vsखटना सामने आई है. पहली बार अपने देश के लिए खेल रहे जेरेमी सोलोज़ानो (Jeremy Solozano) को शॉर्ट लेग में फील्डिंग करते हुए गंभीर चोट लग गई. चोट लगने के तुरंत बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया. घटना मैच के 24वें ओवर की है, जब श्रीलंका के कप्तान दिमुथ करुणारत्ने ने रोस्टन चेज़ की गेंद पर पुल शॉट का प्रयास किया और गेंद फील्डर जेरेमी सोलोज़ानो (Jeremy Solozano) के हेलमेट ग्रिल से टकरा गई. इसके बा मैदान पर स्ट्रेचर लाया गया और तुरंत उन्हें टेस्ट के लिए अस्पताल ले जाया गया.

सोलोज़ानो पर ताजा अपडेट ये आई है कि वह स्थिर है और उसे आगे के अवलोकन और उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया है. आपको बता दें कि श्रीलंका के कप्तान दिमुथ करुणारत्ने ने रविवार को टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. आश्चर्य नहीं कि दोनों टीमों ने गाले की सूखी, टर्निंग पिच पर कई स्पिनरों को उतारा है.

Also Read:Jeremy Solozano taken to hospital after blow to head

रमन लांबा ने गंवाई थी ऐसे ही जान

आपको बता दें कि पूर्व भारतीय क्रिकेट रमन लांबा को भी 1998 में शॉर्टलेग पर फील्डिंग करते हुए चोट लगी थी और वही चोट बाद में उनकी मौत का कारण बनी. वे बंगबंधु स्टेडियम में ढाका क्लब क्रिकेट मैच में शॉर्ट लेग पर बिना हेलमेट के फील्डिंग कर रहे थे. उस समय मेहराब हुसैन बल्लेबाजी कर रहे थे. शॉट इतनी तेज था कि बॉल लांबा के सिर पर लगने के बाद वापस विकेटकीपर के पास पहुंच गई. बांग्लादेश के पूर्व कप्तान, मोहम्मद अमिनुल इस्लाम उस घटना को याद करते हुए बताते हैं कि शुरुआत में चोट गंभीर प्रतीत नहीं हो रही थी लेकिन बाद में दिल्ली से एक न्यूरोसर्जन को बुलाये जाने के बावजूद शीघ्र ही उनकी मृत्यु हो गई. रमन लांबा ने भारत के लिए चार टेस्ट और 32 वनडे मैच खेले थे.


Download our App for more Tips and Tricks

SHARE

FB TW TW TL ML COPY
Link Copied
Banner Ad
x