ऐसे भाईयों की जोड़ी जो 'छक्के' लगाकर ही शतक पूरा करते थे

सहवाग (Virendra Sehwag) भारतीय क्रिकेट के निडर बल्लेबाज रहे हैं जो अपने शतक के निकट होने के बाद भी बिना किसी दबाव के बल्लेबाजी करते थे और छक्के लगाकर शतक पूरा करने का जज्बा रखते थे

क्रिकेट के मैदान (Cricket) पर यूं तो कई ऐसे बल्लेबाज रहे हैं जिन्होंने अपना शतक छक्का लगाकर पूरा किया है. भारत के सहवाग इस लिस्ट में सबसे आगे आते हैं. सहवाग (Virendra Sehwag) भारतीय क्रिकेट के निडर बल्लेबाज रहे हैं जो अपने शतक के निकट होने के बाद भी बिना किसी दबाव के बल्लेबाजी करते थे और छक्के लगाकर शतक पूरा करने का जज्बा रखते थे. लेकिन क्या आपको बता दें कि सहवाग के अलावा भी कुछ ऐसे निडर खिला़ड़ी रहे जिन्होंने जब भी अपने करियर में शतक लगाया तो छक्का जमाकर ही अपनी सेंचुरी पूरी की. इसके अलावा सबसे हैरानी की बात ये है कि ऐसा कारनामा दो भाईयों ने अपने करियर में किया है तो चौंकाने वाली बात रही है. वो दो भाई कोई और नहीं बल्कि इरफान पठान और यूसुफ पठान (Pathans Brother) रहे हैं.

इरफान पठान ने टेस्ट में एक मात्र शतक छक्का लगाकर पूरा किया था

भारत के दिग्गज प्लेयर रहे इरफान पठान (Irfan Pathan) ने अपने इंटरनेशनल करियर में केवल एक शतक ही लगाया लेकिन अपने एक मात्र छक्के को उन्होंने छक्का लगाकर पूरा किया था. साल 2007 में पाकिस्तान के खिलाफ बैंगलोर में खेले गए टेस्ट मैच में इरफान ने अपने करियर का पहला शतक ठोका. उस टेस्ट मैच में जब इरफान 96 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे तो उन्होंने पाकिस्तानी स्पिनर दानिश कनेरिया की गेंद पर मिडविकेट की ओर हवाई शॉट खेलकर अपना शतक पूरा किया था. वैसे, छक्के से शतक लगाने के बाद अगली ही गेंद पर इरफान आउट हो गए थे, लेकिन उन्होंने अपने इंटरनेशनल करियर का एक मात्र शतक छक्के से पूरा करके कमाल कर दिया था. इरफान ने अपने करियर में 29 टेस्ट मैच, 120 वनडे और 24 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं., इरफान के नाम टेस्ट में 100, वनडे में 173 और टी-20 इंटरनेशनल में 28 विकेट दर्ज है.

इसके बाद अपने वनडे करियर का दूसरा शतक यूसुफ ने 2011 में सेंचुरियन वनडे में साउथ अफ्रीका के खिलाफ लगाया था. इस मैच में उन्होंने 105 रन की पारी केवल 70 गेंद पर खेली थी. जब यूसुफ 95 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे तो उन्होंने छक्का जमाया और अपना दूसरा शतक पूरा किया था. अपनी 105 रन की पारी में यूसुफ ने 8 चौके और 8 छक्के जमाए थे. हांलिक यूसुफ अपने करियर में कोई टेस्ट मैच नहीं खेल पाए लेकिन छोटे फॉर्मेट में वो विरोधी गेंदबाजों के लिए हमेशा मुसीबत बनकर खड़े रहते थे. वनडे में 57 मैच खेलकर यूसुफ ने 810 रन बनाए जिसमें 2 शतक और 3 अर्धशतक शामिल रहा. इसके अलावा 22 टी-20 इंटरनेशनल में 236 रन ठोके थे. इसी साल यूसुफ ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है.


Download our App for more Tips and Tricks

SHARE

FB TW TW TL ML COPY
Link Copied