IPL 2021: अगर मुंबई के मैच हुए रद्द, तो बीसीसीआई के सामने पैदा हो जाएगी यह बहुत ही बड़ी समस्या

IPL 2021: महाराष्ट्र में शुक्रवार को पचास हजार से ज्यादा मामले दर्ज किये गये और वहां संभावित लॉकडाउन की स्थिति नजर आ रही है जिसका संकेत मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दिया है. उन्होंने कहा, ‘‘अगर मौजूदा स्थिति बनी रही तो मैं लॉकडाउन लगाने की आशंका से इनकार नहीं सकता.’ मुख्यमंत्री ने कहा, ‘राज्य में 2.2 लाख पृथकवास बिस्तर हैं जिनमें से 62 फीसदी भरे हुए हैं. 20,519 आईसीयू बिस्तरों में से 48 फीसदी पर मरीज भर्ती हैं.

मुंबई: भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) को मुंबई में कोविड-19 मामलों में तेजी से बढ़ोतरी के बावजूद 10 से 25 अप्रैल के बीच इस शहर में इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) मैचों के आयोजन का भरोसा है और उसका कहना है कि इतने कम समय में वैकल्पिक स्थल पर ‘बायो-बबल' बनाना संभव नहीं होगा. दिल्ली कैपिटल्स के अक्षर पटेल और वानखेड़े स्टेडियम के 10 कर्मचारियों तथा बीसीसीआई द्वारा नियुक्त किये गये प्रतियोगिता प्रबंधन से जुड़े छह सदस्यों को इस घातक वायरस से पॉजिटिव पाया गया है. इससे नौ अप्रैल से शुरू होने वाली आईपीएल में पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़ती जारी रही है.

कोरोवा वायरस की स्थिति यदि नियंत्रण से बाहर चली जाती है तो फिर इंदौर और हैदराबाद को आईपीएल के ‘स्टैंड बाई' स्थान के रूप में रखा गया है, लेकिन बीसीसीआई को ये मैच मुंबई में कराने का भरोसा है. मुंबई को इस धनाढ्य लीग के 10 मैचों की मेजबानी करनी है. बीसीसीआई के एक सीनियर अधिकारी ने शनिवार को कहा, ‘हां, हैदराबाद एक ‘स्टैंड बाई'स्थलों में से एक है, लेकिन सभी व्यावहारिक कारणों को देखते हुए हम अब भी मुंबई से मैच शिफ्ट करने के बारे में नहीं सोच रहे हैं. इतने कम समय में एक और ‘बायो-बबल' बनाना मुश्किल होगा.' अब सवाल यह है कि जैसे मुंबई के हालात बदतर हो रहे हैं. अक्षर पटेल भी संक्रमित हो गए हैं और ऐसे में सरकार ने इजाजत नहीं दी, तो फिर बीसीसीआई के सामने तो बहुत ही बड़ी समस्या खड़ी हो पाएगी क्योंकि नया बायो-बबल बन ही नहीं पाएगा. इस सूरत में मैच रद्द करने के अलावा कोई विकल्प नहीं रहेगा, जो सारे समीकरण बिगाड़ देगा.

इसके अलावा आयोजक वानखेड़े स्टेडियम के कर्मचारियों के कोविड-19 के लिये पॉजिटिव पाये जाने से भी चिंतित हैं. शुक्रवार शाम तक इनकी संख्या आठ थी जो अब बढ़कर 10 हो गयी है.यही नहीं प्रतियोगिता प्रबंधन दल के छह सदस्यों का परीक्षण भी पॉजेटिव आया है और उन्हें भी पृथकवास पर भेज दिया गया है. मुंबई क्रिकेट संघ (एमसीए) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘जहां तक मैदानकर्मियों की बात है तो कल तब आठ पॉजिटिव मामले थे. आज दो अन्य मामले पॉजिटिव पाये गये. इससे इनकी संख्या बढ़कर 10 हो गयी. सभी को घर भेज दिया गया है और वे अलग थलग रह रहे हैं.'

उन्होंने कहा, ‘हम तैयारियों के लिये कांदिवली से मुंबई क्रिकेट संघ के दूसरे मैदानकर्मियों को ला रहे हैं. इसके अलावा बीसीसीआई प्रतियोगिता प्रबंधन के छह से सात कर्मचारियों का परीक्षण पॉजेटिव आया है.'दोपहर में दिल्ली कैपिटल्स ने एक बयान जारी कर बताया कि उनके स्पिन ऑलराउंडर अक्षर पटेल पॉजेटिव आये हैं जिसके बाद उन्हें कोविड-19 पृथकवास सुविधा में भेज दिया गया है. महाराष्ट्र में शुक्रवार को पचास हजार से ज्यादा मामले दर्ज किये गये और वहां संभावित लॉकडाउन की स्थिति नजर आ रही है जिसका संकेत मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दिया है. उन्होंने कहा, ‘‘अगर मौजूदा स्थिति बनी रही तो मैं लॉकडाउन लगाने की आशंका से इनकार नहीं सकता.' मुख्यमंत्री ने कहा, ‘राज्य में 2.2 लाख पृथकवास बिस्तर हैं जिनमें से 62 फीसदी भरे हुए हैं. 20,519 आईसीयू बिस्तरों में से 48 फीसदी पर मरीज भर्ती हैं, जबकि ऑक्सीजन की उपलब्धता वाले 62,000 बिस्तरों में से 25 फीसदी पर मरीज हैं. इसी तरह 9,347 वेंटिलेटर में से 25 फीसदी पर मरीज हैं.'


Download our App for more Tips and Tricks

SHARE

FB TW TW TL ML COPY
Link Copied