Ind vs Eng 2nd ODI: इंग्लैंड की परेशानियां बढ़ीं, मोर्गन और बिलिंग्स का दूसरे वनडे में खेलना मुश्किल

Ind vs Eng 2nd ODI: मोर्गन अभी तक सीरीज में बैटिंग की उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे हैं और मंगलवार को पहले वनडे में भी वह जमकर 22 रन बनाने के बाद एक अटपटा शॉट खेलकर आउट हो गए. मोर्गन ने कहा कि चोट के कारण वह बैटिंग को अपना सौ फीसदी नहीं दे पाएंगे और ऐसे में फील्डिंग करना भी आसान होने नहीं जा रहा. वहीं, बिलिंग्स का प्रदर्शन भी एक चिंता का विषय बना हुआ है.

नई दिल्ली: भारत के तीन वनडे मैचों की सीरीज का दूसरा मुकाबला (2nd ODI) शुक्रवार को पुणे के ही महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन (MCA) के उसी मैदान पर खेला जाएगा, जहां पहला वनडे खेला गया था. पहला मैच जीतने के बाद टीम विराट का कॉन्फिडेंस हाई है, लेकिन दूसरे मैच से पहले ही इंग्लैंड के लिए बुरी खबर आ रही है. और इस मुकाबले में कप्तान इयॉन मोर्गन (Eoin Morgan) और सैम बिलिंग्स (Sam Billings) का खेलना मुश्किल है. दोनों ही खिलाड़ी पहले वनडे के दौरान चोटिल हो गए थे.

इंग्लैंड को पहले वनडे में 66 रन से मिली हार के दौरान तब झटका लगा, तब मोर्गन को तर्जनी उंगली और अंगूठे के बीच चोट आयी और इसमें चार टांके लगाने पड़े. वहीं, दूसरी घटना के तहत सैम बिलिंग्स बाउंड्री पर फील्डिंग के दौरान एक अटपटी डाइव लगाने के दौरान चोटिल हो बैठे. इस पर मोर्गन ने कहा कि हम अगले 48 घंटे तक इंतजार करने जा रहे हैं. तब हम चोट का मुआयना करेंगे. उन्होंने कहा कि हम खुद को उबरने के लिए ज्यादा से ज्यादा समय देंगे. उम्मीद है कि शुक्रवार को हम उपलब्ध रहेंगे.

मोर्गन अभी तक सीरीज में बैटिंग की उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे हैं और मंगलवार को पहले वनडे में भी वह जमकर 22 रन बनाने के बाद एक अटपटा शॉट खेलकर आउट हो गए. मोर्गन ने कहा कि चोट के कारण वह बैटिंग को अपना सौ फीसदी नहीं दे पाएंगे और ऐसे में फील्डिंग करना भी आसान होने नहीं जा रहा. वहीं, बिलिंग्स का प्रदर्शन भी एक चिंता का विषय बना हुआ है.

मोर्गन ने कहा कि मैंने बिलिंग्स से उनकी बैटिंग को लेकर अभी बात नहीं की है. ऐसे में मुजे उनकी इच्छा के बारे में नहीं मालूम. जहां तक मेरा सवाल है, तो यह सौ फीसद नहीं होने जा रहा, लेकिन इसका अर्थ यह नहीं है कि मैं बल्ला नहीं पकड़ सकता. शुक्रवार को इंग्लैंड के सामने हालात ऐसे हैं, जहां उसका बिना जीत के गुजारा नहीं चलेगा. बहरहाल, मोर्गन ने कहा कि वे आगे के मैचों में अपने ज्यादातर खिलाड़ियों को मौका देंगे. मतलब यह है कि मैट पार्किसन, रीसे टॉप्ले और अभी तक एक भी अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेलने वाले लियाम लिविंगस्टोन को इन मैचों में खेलने का मौका मिल सकता है.


Download our App for more Tips and Tricks

SHARE

FB TW TW TL ML COPY
Link Copied