इस साल भारतीय धरती पर भारत-पाकिस्तान खेल सकते हैं द्विपक्षीय सीरीज, पाक अखबार का दावा

कुल मिलाकर अगर योजना के हिसाब से सबकुछ सही रहा, तो भारत और पाकिस्तान द्विपक्षीय सीरीज में एक-दूसरे से भिड़ सकते हैं. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) को अपनी सरकार के उच्च स्तरीय अधिकारियों से इस बात के संकेत मिले हैं. और इस बाबत पाकिस्तान के अग्रणी उर्दू अखबार डेली जंग में एक रिपोर्ट भी छपी है. इस रिपोर्ट में पीसीबी के एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि इस साल कुछ ऐसा हो सकता है.

नई दिल्ली: करोड़ों भारतीय और पाकिस्तानी क्रिकेटप्रेमियों के लिए अच्छी और बड़ी खबर आ रही है और अगर सूत्रों की मानें, तो चिर-प्रतिद्वंद्वी भारत और पाकिस्तान के बीच इस साल द्विपक्षीय सीरीज का आयोजन हो सकता है. रिश्तों में आयी खटास के कारण दोनों देशों के बीच पिछले करीब दशक भर से कोई द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेली गयी है. आखिरी बार भारत और पाकिस्तान के बीच सीरीज का आयोजन 2007 में हुआ था, जब पाकिस्तान ने पांच वनडे और तीन टेस्ट मैच खेलने के लिए भारत का दौरान किया था. बहुत ही मुश्किलों से जैसे-तैसे दोनों देशों ने एक दूसरे की जमीन पर खेलना शुरू किया था, लेकिन साल 2008 में मुंबई में हुए आतंकी हमले के बाद एक बार फिर से रिश्तों ने यू-टर्न ले लिया. इसके बाद पाकिस्तानी टीम 2012-13 में छोटी सीमित ओवरों की सीरीज खेलने भारत आयी थी, लेकिन फिर से आतंकी हमलों के कारण रिश्ते खराब हो गए. पर अब भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय सीरीज की जमीन अगर तैयार हो रही है, तो इसके पीछे की वजह भी हम आपको आगे बताएंगे.

कुल मिलाकर अगर योजना के हिसाब से सबकुछ सही रहा, तो भारत और पाकिस्तान द्विपक्षीय सीरीज में एक-दूसरे से भिड़ सकते हैं. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) को अपनी सरकार के उच्च स्तरीय अधिकारियों से इस बात के संकेत मिले हैं. और इस बाबत पाकिस्तान के अग्रणी उर्दू अखबार डेली जंग में एक रिपोर्ट भी छपी है. इस रिपोर्ट में पीसीबी के एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि इस साल कुछ ऐसा हो सकता है.

उन्होंने कहा कि हमसे तैयार रहने के लिए कहा गया है. रिपोर्ट में आगे यह भी कहा गया है कि दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय सीरीज की चर्चा भारतीय मीडिया में भी चल रही है. और सबकुछ सही रहा तो दोनों देशों के बीच तीन टी20 मैचों की सीरीज का आयोजन हो सकता है. इस साल के दूसरे हिस्से में सीरीज का आयोजन हो सकता है.

दरअसल सीरीज के पीछे की वजह जो बन रही है, वह साल के आखिर में भारत में होने वाला आईसीसी टी20 विश्व कप का आयोजन है. हालांकि, आईसीसी प्रतियोगिता होने के कारण भारत को अपनी धरती पर पाकिस्तान को खेलने की मंजूरी देनी ही होगी, लेकिन उससे पहले ही दोनों देश एक माहौल भी बना लेना चाहते हैं. वहीं साल 2023 में फिर से पाकिस्तान को फिफ्टी-फिफ्टी वर्ल्ड कप खेलने आना होगा. ऐसे में कहीं न कहीं भारत सरकार को भूमिका भी बनानी होगी और रास्ता तो देना ही होगा. रिश्तों में तमाम खटास के बावूजद. इस महीने की शुरुआत में पीसीबी अध्यक्ष एहसान मनि ने भी उम्मीद जतायी थी कि पाकिस्तान एशिया कप के लिए भारत की मेजबानी करेगा.


Download our App for more Tips and Tricks

SHARE

FB TW TW TL ML COPY
Link Copied