Ind vs Eng 2nd T20I: हम विराट की इस नीति से पीछे नहीं हटेंगे, श्रेयस अय्यर ने कहा

Ind vs Eng 2nd T20I: क्या आप पर बेहतर करने का दबाव है, पर अय्यर ने बोला कि मैं किसी भी तरह के दबाव में नहीं हूं. मैं पूरी स्वतंत्रता, खुशी के साथ बल्लेबाजी कर रहा हूं और इसका मजा ले रहा हूं. पहले मैच में अय्यर नंबर पांच पर बैटिंग करने उतरे थे. इस पर इस उभरते हुए बल्लेबाज ने कहा कि बैटिंग क्रम कोई चिंता का विषष नहीं है.

नई दिल्ली: टीम विराट को भले ही इंग्लैंड के हाथों पहले टी20 (मैच रिपोर्ट) में भले ही 8 विकेट से करारी शिकस्त झेलनी पड़ी हो, लेकिन अर्द्धशतक बनाने वाले युवा बल्लेबाज श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) ने साफ कर दिया है कि हार के बावजूद कप्तान की 'प्ले फ्रीली (स्वतंत्रा से खेलना)' की नीति पर कोई असर नहीं पड़ेगा. लेकिन अय्यर ने (Shreyas Iyer) ने स्वीकारते हुए कहा कि आगे के मैचों में भारतीय टीम को अपने प्लान को बेहतर अंदाज से अमलीकरण की जरूरत है. श्रेयस अय्यर सवाल किया गया था कि टीम इंडिया को इस नीति से हटने की जरूरत है कि हालात चाहे जैसे भी हों, लेकिन स्ट्रोक खेलना बरकरार रखा जाएगा.

अय्यर ने कहा कि हमारी नीति में बदलाव नहीं होगा क्योंकि अगर आप हमारी बैटिंग लाइन देखते हैं, तो हमारे पास आखिर तक पावर-हिटर्स हैं. ईमानदारी से कहूं, तो हमें कुछ भी बदलाव करने की जरूरत नहीं है. अय्यर बोले कि हमारे पास अच्छा प्लान है, लेकिन इसे सही तरीके से अंजाम देने की जरूरत है. विश्व कप की ओर आगे बढ़ते हुए हमें देखने की जरूरत है कि हम सभी समस्याओं को सुलझा लें. यह पांच मैचों की सीरीज है. इसलिए यह अलग संयोजनों को इस्तेमाल करने का बेहतरीन और यह देखने का अच्छा मौका है कि हमारे लिए क्या अनुकूल है. सीरीज का दूसरा टी20 रविवार को खेला जाएगा और अब देखने की बात यह होगी कि टीम विराट किसे मौका देती है. इस समय कड़ा मुकाबला है और सूर्यकुमार यादव, ईशान किशन और राहुल तेवतिया जैसे खिलाड़ी अपनी बारी के इंतजार में हैं, जबकि ऋषभ पंत ने बेहतरीन वापसी की है.

क्या आप पर बेहतर करने का दबाव है, पर अय्यर ने बोला कि मैं किसी भी तरह के दबाव में नहीं हूं. मैं पूरी स्वतंत्रता, खुशी के साथ बल्लेबाजी कर रहा हूं और इसका मजा ले रहा हूं. पहले मैच में अय्यर नंबर पांच पर बैटिंग करने उतरे थे. इस पर इस उभरते हुए बल्लेबाज ने कहा कि बैटिंग क्रम कोई चिंता का विषष नहीं है. भारती टम में रहते हुए आपको लचीला रवैया अख्तियार करना पड़ता है कि आप किस क्रम पर खेल रहे हैं. मैंने कोई बदलाव नहीं किया है और यह सिर्फ माइंडसेट की बात है. अहम बात यह है कि टीम को किस बात की जरूरत है और मैं हालात के हिसाब से बैटिंग करता हूं.

अय्यर ने कहा कि पहले मैच में हालात चुनौतीपूर्ण थे और हमें नैसर्गिक खेल खेलना जारी रखने के साथ ही स्कोरबोर्ड को चलायमान रखना था. फिर इसका कोई मतलब नहीं था कि विकेट रहते हैं या गिरते रहें. उन्होंने कहा कि मैं पहले भी इस तरह के हालात से गुजरा हूं. यह आईपीएल में मेरे साथ हो चुका है. मैं जानता हूं कि मैं कुछ बाउंड्रियों बटोरने में सफल रहूंगा. और अगर साझीदारी होती है, तो मैच की दशा बदल जाती है. इस पहलू से इंग्लैंड के बॉलरों ने बढ़िया गेंदबाजी की. यह पूरी तरह से उनका दिन था और वे प्रशंसा के हकदार हैं.


Download our App for more Tips and Tricks

SHARE

FB TW TW TL ML COPY
Link Copied