Ind vs Eng 1st T20I: इंग्लैंड ने भारत को 8 विकेट से दी मात, सीरीज में 1-0 से बढ़त पर मेहमान

IND vs ENG 1st T20i: पहली पाली में भारतीय दिग्गज बल्लेबाज पटरी से उतरे दिखायी पड़े और इंग्लैंड ने उसे कोटे 20 ओवरों में 7 विकेट पर 124 रन पर ही रोक दिया. भारतीय बल्लेबाजों के लिए जोफ्रा आर्चर एक चुनौती सरीखे साबित हुए, जिन्होंने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए और बहुत ही उम्दा गेंदबाजी की. बहरहाल, भारत ने अगर यह स्कोर हासिल किया, तो उसके पीछे सबसे बड़ी वजह श्रेयस अय्यर (67) का शानदार पचासा रहा.

भारत और इंग्लैंड के बीच अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम (Narendra Modi Stadium) में खेला गया पांच टी-20 मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला पूरी तरह से एकतरफा साबित हुआ और मेहमानों ने भारत को 8 विकेट से मात देकर 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है. भारत से मिले 125 रनों के आसान लक्ष्य का पीछा करते हुए जब इंग्लिश ओपनर जेसन रॉय और जोस बटलर ने पावर प्ले के शुरुआती 6 ओवरों में 50 रन जोड़े, तभी साबित हो गया था कि मैच किस ओर जा रहा है. और जब ये दोनों साझेदारी को 72 रन तक लेकर चले गए, तो साफ हो गया कि यहां से औपचारिकता भर बची है. इंग्लैंड के दो विकेट गिरू जरूर, लेकिन पहले जेसन रॉय ने 32 गेंदों पर 49 और फिर बैर्यस्टो ने 17 गेंदों पर नाबाद 26 रन बनाकर इंग्लैंड की जीत को आसान बना दिया. भारत के शीर्ष क्रम के उलट इंग्लैंड के हर बल्लेबाज ने योगदान दिया. बटलर ने 24 गेंदों पर 28 रन और डेविड मलान ने भी बिना आउट हुए 20 गेंदों पर 24 रन बनाए. और इस प्रवाह-भरी बल्लेबाजी से इंग्लैंड ने 15.3 ओवरों में ही जीत का लक्ष्य हासिल कर लिया. भारत के लिए चहल और वॉशिंगटन ने एक-एक विकेट लिया. जोफ्रा आर्चर को मैन ऑफ द मैच चुना गया

पहली पाली में भारतीय दिग्गज बल्लेबाज पटरी से उतरे दिखायी पड़े और इंग्लैंड ने उसे कोटे 20 ओवरों में 7 विकेट पर 124 रन पर ही रोक दिया. भारतीय बल्लेबाजों के लिए जोफ्रा आर्चर एक चुनौती सरीखे साबित हुए, जिन्होंने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए और बहुत ही उम्दा गेंदबाजी की. बहरहाल, भारत ने अगर यह स्कोर हासिल किया, तो उसके पीछे सबसे बड़ी वजह श्रेयस अय्यर (67) का शानदार पचासा रहा. अगर अय्यर ऐसी बल्लेबाजी न करते, तो भारत की हालात और भी खराब होती क्योंकि दूसरे छोर से अय्यर तब कोई सहारा नहीं मिला, जब भारत ने अपने चार विकेट सिर्फ 48 पर ही गंवा दिए थे. इसमें कप्तान विराट सहित बेहतरीन फॉर्म में चल रहे ऋषभ पंत का विकेट भी था. इंग्लैंड से पहले बैटिंग की दावत पाने के बाद शुरुआत से ही भारतीय टीम संघर्ष करती रही और उसने अपने शीर्ष चार बल्लेबाजों को 10 ओवर पूरा होने से पहले ही गंवा दिया था. पावर-प्ले (शुरुआती 6 ओवर) की लड़ाई में मेहमान टीम टीम विराट को पूरी तरह मात देने में सफल रही. इस दौरान भारत 3 विकेट पर 22 रन ही बना सका.

दूसरे ही ओपर में जोफ्रा आर्चर ने केएल राहुल को बोल्ड कर दिया, जो ड्राइव लगाने की कोशिश में प्लेड-ऑन से बोल्ड होकर पवेलियन लौट गए, तो अगले ही ओवर में आदिल रशीद ने विराट कोहली को आउट किया, जो रूम बनाकर मिडऑफ के ऊपर से मारने की कोशिश में अपना विकेट गंवा बैठे. भारत को तीसरा झटका पांचवें ओवर में लगा, जब धवन वुड की गेंद को पुल करने की कोशिश में बोल्ड हो गए. बेहतरीन फॉर्म में चल रहे ऋषभ पंत से खासी उम्मीदें थीं और शुरुआत में उन्होंने साहसी स्ट्रोक लगाकर दिखाया भी कि वह यहां एक अच्छी पारी खेलेंगे, लेकिन पारी के 10वें ओवर में स्टोक्स ने उनकी पारी पर विराम लगा दिया और टीम विराट का स्कोर 4 विकेट पर 48 रन हो गया. यहां से हार्दिक पंड्या ने अय्यर के साथ मिलकर जिम्मेदारी के साथ बल्लेबाजी की और स्कोर को सौ के पार पहुंचाया, लेकिन थोड़ा निराशानजक यह रहा कि हार्दिक 17वें ओवर की दूसरी गेंद पर पवेलियन लौट गए और इससे और बेहतर स्कोर हासिल करने के लिहाज से भारत को पड़ा नुकसान हुआ. अगर हार्दिक आखिर तक जमे रहते, तो कौन जानता है कि भारत डेढ़ सौ के आस-पास पहुंचता और इससे गेंदबाज और मजबूती महसूस करते. अब जबकि ऐसा नहीं ही हुआ, तो भारतीय टीम पहले टी20 मुकाबले में इंग्लैंड को मजबूत चुनौती देने से बहुत ज्यादा पीछे रह गयी.

इससे पहले इंग्लैंड ने टॉस जीतने के बाद इंग्लैंड ने पहले फील्डिंग करने का फैसला किया. और टीम मैनेजमेंट ने अपनी रणनीति से चौंकाते हुए और प्रेस कॉन्फ्रेंस में कही गयी बात के उलट रोहित शर्मा को इस मैच के लिए टीम में शामिल नहीं किया गया है. हालांकि, रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को बाहर बैठाने से उनके चाहने वालों का मन जरूर खराब होगा, लेकिन ऐसा लगता है कि टीम मैनेजमेंट टी20 विश्व कप के मद्देनजर खुद को साबित करने के लिए सभी को अच्छा मौका देना चाहता है, लेकिन कप्तान विराट कोहली का यह प्रयोग एकदम फ्लॉप साबित हुआ. टीम मैनेजमेंट की यह रणनीति भ्रमित दिखायी पड़ी. चलिए मुकाबले में खेली दोनों टीेमों पर नजर दौड़ा लीजिए:

भारत: विराट कोहली (कप्तान), केएल राहुल, शिखर धवन, श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत, हार्दिक पंड्या, वॉशिंगटन सुंदर, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, शार्दूल ठाकुर और युजवेंंद्र चहल
इंग्लैंड: इयॉन मोर्गन (कप्तान), जेसन रॉय, जोस बटलर, डेविड मलान, जॉनी बैर्यस्टो, बेन स्टोक्स, सैम कुरेन, जोफ्रा आर्चर, क्रिस जॉर्डन, आदिल राशिद और मार्क वुड

Download our App for more Tips and Tricks

SHARE

FB TW TW TL ML COPY
Link Copied