सिराज के बोल्ड होते ही अकेले पवेलियन चल दिए वॉशिंगटन

भले ही सुंदर शतक से चूक गए, लेकिन उनकी यह पारी किसी शतक से कम नहीं है. सुंदर की इस शानदार पारी में 10 चौके के अलावा एक छक्का भी शामिल रहा.

टीम इंडिया के ऑलराउंडर वॉशिंगटन सुंदर‌ अपना पहला टेस्ट शतक बनाने से चूक गए. इंग्लैंड के खिलाफ चौथे टेस्ट के तीसरे दिन सुंदर ने नाबाद 96 रन बनाए. बेन स्टोक्स ने मोहम्मद सिराज को आउट कर भारत की पहली पारी समेट दी. भले ही सुंदर शतक से चूक गए, लेकिन उनकी यह पारी किसी शतक से कम नहीं है. सुंदर की इस शानदार पारी में 10 चौके के अलावा एक छक्का भी शामिल रहा.

21 साल के वॉशिंगटन सुंदर का चार मैचों में यह तीसरा अर्धशतक है.‌ सुंदर ने इसी साल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऐतिहासिक सीरीज में अपना टेस्ट डेब्यू किया था. ब्रिस्बेन के अपने डेब्यू टेस्ट में सुंदर ने गेंद और बल्ले से यादगार प्रदर्शन किया था. उस टेस्ट में सुंदर ने कुल चार विकेट झटके थे.  साथ ही सुंदर ने पहली पारी में 62 रनों का अहम योगदान दिया था. सुंदर और शार्दुल ठाकुर की 123 रनों की साझेदारी अब भी लोगों के जेहन में है. इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट की पहली पारी में भी सुंदर ने नाबाद 85 रन बनाए थे.

इंग्लैंड के 205 रनों के जवाब में एक समय भारत के 6 विकेट 146 रनों पर गिर गए थे. लेकिन ऋषभ पंत और वॉशिंगटन सुंदर ने सातवें विकेट के 113 रनों की साझेदारी की. पंत न 101 रनों की शानदार पारी खेली, जिसमें 13 चौके और दो छक्के शामिल रहे. सुंदर ने इसके बाद अक्षर पटेल के साथ 106 रनों की साझेदारी की. अक्षर 43 रन बनाकर रन आउट हुए. पंत और सुंदर की शानदार पारियों की बदौलत भारत ने पहली पारी में 365 रन बनाए. इस तरह भारत को 160 रनों की महत्वपूर्ण बढ़त मिली है.

शतक से चूकने का अफसोस सुंदर के चेहरे पर देखा गया. वह अपने पहले टेस्ट शतक की ओर बढ़ रहे थे, लेकिन अक्षर के आउट होने के बाद उन्हें दूसरे छोर से साथ नहीं सिराज के आउट होने के बाद सुंदर अकेले पवेलियन की ओर चले गए.

बता दें कि इससे पहले चेन्नई टेस्ट में अश्विन के शतक पूरा करने में सिराज का अहम रोल रहा था. तब अश्विन और सिराज के बीच 49 रनों की साझेदारी हुई थी. लेकिन इस बार सिराज ऐसा नहीं कर सके.


Download our App for more Tips and Tricks

SHARE

FB TW TW TL ML COPY
Link Copied