Syed Mushtaq Ali Trophy: तमिलनाडु फाइनल में, अरुण कार्तिक की जोरदार बल्लेबाजी

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी टी20 टूर्नामेंट: केबी अरुण कार्तिक के नाबाद 89 रनों की बदौलत तमिलनाडु ने शुक्रवार को पहले सेमीफाइनल में राजस्थान को 7 विकेट से हराया

केबी अरुण कार्तिक के नाबाद 89 रनों की बदौलत तमिलनाडु ने शुक्रवार को पहले सेमीफाइनल में राजस्थान को 7 विकेट से हराया. इस तरह उसने दूसरी बार सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी टी20 टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाई. तमिलनाडु पिछले साल खिताबी मुकाबले में कर्नाटक से सिर्फ एक रन से हार गया था.

अरुण ने कप्तान दिनेश कार्तिक (नाबाद 26) के साथ 89 रनों की साझेदारी की, जिससे तमिलनाडु ने 155 रनों के लक्ष्य को 8 गेंदें शेष रहते हासिल कर लिया.

सरदार पटेल स्टेडियम में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का राजस्थान का फैसला गलत साबित हुआ, जब कप्तान अशोक मेनारिया की 32 गेंदों में 51 रनों की पारी के बावजूद तमिलनाडु ने उसे 9 विकेट पर 154 रनों के स्कोर पर रोक दिया.

राजस्थान ने पहले ओवर में ही सलामी बल्लेबाज भरत शर्मा (0) का विकेट गंवा दिया. बाएं हाथ के स्पिनर आर साई किशोर (16 रन पर दो विकेट) की गेंद पर बाबा अपराजित ने उनका कैच लपका.

आदित्य गढ़वाल (29) ने तीसरे ओवर में तेज गेंदबाज अश्विन क्राइस्ट पर लगातार 2 चौके मारे. लेकिन अच्छी शुरुआत के बावजूद 5वें ओवर में पवेलियन लौट गए.

मेनारिया ने छठे ओवर में अश्विन पर 3 चौके और एक छक्का जड़ा. बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने अरजित गुप्ता (35 गेंदों में 45 रन) के साथ तीसरे विकेट के लिए 83 रन जोड़े.

तमिलनाडु की फील्डिंग खराब रही और टीम ने मनेरिया के कैच सहित 3 कैच टपकाए. साई किशोर ने मेनारिया को पवेलियन भेजा, जबकि फॉर्म में चल रहे महिपाल लोमरोर (3) भी बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे, जिससे राजस्थान का स्कोर 4 विकेट पर 129 रन हो गया.

निचले क्रम के बल्लेबाज तेज गेंदबाज एम मोहम्मद (24 रन पर 4 विकेट) के खिलाफ खुलकर शॉट खेलने में नाकाम रहे. अंतिम 5 ओवरों में राजस्थान की टीम सिर्फ 24 रन जोड़ सकी, जबकि इस दौरान टीम ने 5 विकेट गंवाए.

तमिलनाडु ने 155 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए सी हरि निशांत (4) का विकेट जल्दी गंवा दिया, जिन्हें तनवीर उल हक (22 रन पर 1 विकेट) ने एलबीडब्ल्यू किया. अपराजित भी 2 रन बनाने के बाद स्लिप में कैच दे बैठे, जिससे तमिलनाडु का स्कोर 2 विकेट पर 17 रन हो गया.

एन जगदीशन (28) और अरुण कार्तिक ने इसके बाद तीसरे विकेट के लिए 52 रन जोड़कर पारी को संभाला. युवा लेग स्पिनर रवि बिश्नोई (32 रन पर एक विकेट) ने जगदीशन को आउट कर राजस्थान को वापसी दिलाने की कोशिश की, लेकिन अरुण कार्तिक ने कप्तान दिनेश कार्तिक के साथ मिलकर टीम को लक्ष्य तक पहुंचा दिया. अरुण कार्तिक ने 54 गेंदों की अपनी पारी में 9 चौके और 3 छक्के मारे.


Download our App for more Tips and Tricks

SHARE

FB TW TW TL ML COPY
Link Copied