सिडनी टेस्ट के चौथे दिन मोहम्मद सिराज को दर्शकों ने फिर कहे गए अपशब्द, मैच रोके जाने के बाद दोबारा शुरू

Aus Vs Ind 3rd Test Day 4: सिडनी टेस्ट मैच के चौथे दिन एक बार फिर से दर्शकों ने मोहम्मद सिराज पर भद्दी कमेंट किए हैं जिसके बाद भारतीय खिलाड़ी ने अंपायर से इस बारे में शिकायत की

Aus Vs Ind 3rd Test Day 4: सिडनी टेस्ट मैच के चौथे दिन एक बार फिर से दर्शकों ने मोहम्मद सिराज (Mohammed Sira) पर भद्दी कमेंट किए हैं जिसके बाद भारतीय खिलाड़ी ने अंपायर से इस बारे में शिकायत की, भारतीय टीम के कप्तान रहाणे ने भी अंपायर से दर्शकों के व्यवहार को लेकर बातचीत की जिसके कारण खेल को रोका गया है. अंपायर को स्टेडियम सुरक्षा कर्मियों से बात करते हुए देखा गया.सुरक्षाकर्मियों ने दर्शक स्टैंड में आकर कुछ दर्शकों से बात की और उन्हें स्टेडियम से बाहर ले गए, जिसके बाद मैच दोबारा शुरू हो पाया है. यह घटना चौथे दिन 85वें ओवर के समय घटित हुई.

दर्शकों को निकाला गया स्टेडियम से बाहर, मैच दोबारा शुरू

रहाणे और सिराज के शिकायत के बाद सुरक्षा कर्मी स्टेडियम में मौजूद उन दर्शकों से बात की जिसपर भद्दी कमेंट करने का शक जाहिर किया गया. सिक्योरिटी गार्ड ने कुछ दर्शकों को स्टेडियम से बाहर ले गए जिसके बाद अंपायर ने मैच को फिर से शुरू करने की अनुमती दी.

बता दें कि टेस्ट मैच के तीसरे दिन भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) ने टीम के खिलाड़ी जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद सिराज (Jasprit Bumrah, Mohammed Siraj) के साथ नशे में धुत दर्शक द्वारा कथित रूप से नस्लीय दुर्व्यवहार के बाद आईसीसी (ICC) मैच रैफरी के समक्ष औपचारिक शिकायत दर्ज की है. बीसीसीआई सूत्रों के अनुसार सिराज को सिडनी क्रिकेट मैदान (Sydney Cricket Ground) के एक स्टैंड में उपस्थित नशे में धुत एक दर्शक ने ‘मंकी' (बंदर) कहा जिससे 2007-08 में भारतीय टीम के आस्ट्रेलिया दौरे के ‘मंकीगेट' प्रकरण की याद ताजा हो गयी.

बोर्ड के एक सूत्र ने पीटीआई से कहा, ‘‘बीसीसीआई ने अपने दो खिलाड़ियों जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद सिराज से नशे में धुत एक दर्शक द्वारा दुर्व्यवहार के बाद आईसीसी मैच रैफरी डेविड बून के समक्ष औपचारिक शिकायत दर्ज की है.

2008 सिडनी टेस्ट मैच के दौरान हुआ था मंकीगेट प्रकरण

दिलचस्प बात है कि मंकीगेट प्रकरण भी सिडनी टेस्ट के दौरान ही हुआ था जब एंड्रयू साइमंड्स ने दावा किया था कि हरभजन सिंह ने उन्हें कई बार बंदर कहा था। लेकिन भारतीय ऑफ स्पिनर को इस मामले की सुनवाई के बाद पाक साफ कर दिया गया था. पता चला है कि दिन का खेल समाप्त होने के बाद भारतीय टीम के सीनियर खिलाड़ियों, अंपायरों और सुरक्षा अधिकारियों के बीच काफी लंबी चर्चा हुई थी। इसमें कप्तान अजिंक्य रहाणे भी शामिल थे. यह घटना तब हुई जब दोनों भारतीय खिलाड़ी आस्ट्रेलिया की दूसरी पारी के दौरान क्षेत्ररक्षण कर रहे थे.


Download our App for more Tips and Tricks

SHARE

FB TW TW TL ML COPY
Link Copied