आज के दिन टीम इंडिया ने PAK को चटाई धूल, 27 साल बाद मिली थी जीत

भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट प्रतिद्वंद्विता की बात करें, तो दोनों के बीच टेस्ट सीरीज की शुरुआत 1952-53 में हुई थी. पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में भारत ने अपने चिर प्रतिद्वंद्वी को 2-1 से मात दी थी... लेकिन इसके बाद भारत को पाकिस्तान पर सीरीज जीत हासिल करने में 27 साल लग गए थे.

Also Read: इस पाकिस्तानी तेज गेंदबाज के एक्शन पर उठे सवाल अब लाहौर में होगा टेस्ट

भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट प्रतिद्वंद्विता की बात करें, तो दोनों के बीच टेस्ट सीरीज की शुरुआत 1952-53 में हुई थी. तब पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में भारत ने अपने चिर प्रतिद्वंद्वी को 2-1 से मात दी थी. लाला अमरनाथ की कप्तानी में भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ जीत से इस क्रिकेट सफर की शुरुआत की, लेकिन इसके बाद भारत को पाकिस्तान पर सीरीज जीत हासिल करने में 27 साल लग गए थे.

IND vs PAK

दरअसल, आज ही (20 जनवरी, 1980) 42 साल पहले भारतीय टीम ने चेन्नई टेस्ट (तत्कालीन मद्रास) में खेले गए सीरीज के पांचवें टेस्ट में पाकिस्तान को 10 विकेट से करारी शिकस्त दी थी. इस जीत के साथ ही भारत ने 6 टेस्ट मैचों की सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली थी. 

गावस्कर ने 10 घंटे बल्लेबाजी

चेन्नई टेस्ट में भारतीय टीम की जीत में कप्तान सुनील गावस्कर ने बेहतरीन पारी खेली. उन्होंने भारत की पहली पारी में करीब 10 घंटे (593 मिनट) बल्लेबाजी करते हुए 166 रनों की बेहतरीन पारी खेली थी. जिससे भारत ने 430 रनों का स्कोर खड़ा किया और उसे 272 रनों की बड़ी बढ़त हासिल हो गई. पाकिस्तान की दूसरी 233 रनों पर सिमट गई. भारत ने जीत के लिए मिले 76 रनों का टारगेट बिना विकेट गंवाए हासिल कर लिया था.

Also Read: इस पाकिस्तानी क्रिकेटर ने बताया कोहली की कप्तानी छोड़ने का कारण

कपिल देव ने चटकाए 11 विकेट

भारत की पाकिस्तान पर इस बड़ी जीत में कपिल देव का उल्लेखनीय योगदान रहा. उन्होंने अपनी धारदार गेंदबाजी से कुल 11 विकेट हासिल किए थे. पाकिस्तान की पहली पारी में उन्होंने 90 रन देकर 4, जबकि दूसरी पारी में 56 रन देकर 7 विकेट चटकाए थे. उन्होंने भारत की पहली पारी में बल्ले से 78 रनों की बहुमूल्य योगदान भी दिया था.

इसके साथ ही आसिफ इकबाल की कप्तानी में पाकिस्तान को सीरीज में करारी शिकस्त मिली. जहीर अब्बास, माजिद खान, जावेद मियांदाद, इमरान खान जैसे सितारों से सजी पाकिस्तान की टीम पर गावस्कर के धुरंधर भारी पड़े. इसके बाद कोलकाता में खेला गया आखिरी टेस्ट ड्रॉ रहा और भारत ने 2-0 से सीरीज पर कब्जा किया था. इसके साथ ही भारत ने पिछली हार का बदला भी ले लिया, जब उसे 1978/79 में पाकिस्तान दौरे पर 3 मैचों की टेस्ट सीरीज में 0-2 से हार मिली थी.

Also Read: Virat Test Captaincy: PAK क्रिकेटर का ट्वीट, मेरे लिए आप ही सच्चे लीडर


Download our App for more Tips and Tricks