FIFA World Cup: लियोनेल मेसी ने रचा इतिहास, अर्जेंटीना पहुंची क्वार्टर फाइनल में

By Kaif - December 04, 2022 02:51 PM

Image Source: FIFA World Cup Twitter

FIFA World Cup: Lionel Messi created history, Argentina reached quarter-finals

कतर की मेजबानी में खेले जा रहे फीफा वर्ल्ड कप 2022 सीजन में शनिवार देर रात प्री-क्वार्टर फाइनल का दूसरा मैच खेला गया. इस मैच में लियोनेल मेसी (Lionel Messi) की टीम शानदार खेल दिखाया और ऑस्ट्रेलिया को 2-1 से करारी शिकस्त दी. इसी के साथ अर्जेंटीना ने क्वार्टर फाइनल के लिए भी क्वालिफाई कर लिया है.

इस मैच के साथ ही लियोनेल मेसी (Lionel Messi) ने भी इतिहास रच दिया है. यह उनके करियर का ओवरऑल एक हजारवां मैच रहा है. साथ ही मेसी वर्ल्ड कप इतिहास में सबसे ज्यादा गोल दागने वाले अर्जेंटीनाई प्लेयर बन गए हैं. उन्होंने दिग्गज माराडोना को पीछे छोड़ दिया है. मेसी ने वर्ल्ड कप इतिहास में ये 9वां गोल दागा. 

Image Source: FIFA World Cup Twitter

Also Read: FIFA World Cup 2022 Schedule, Qualified teams and Prediction

Lionel Messi created history

लियोनेल मेसी ने रचा इतिहास, मैच का पहला गोल मेसी ने ही दागा था. उन्होंने यह गोल मैच के 35वें मिनट में दागा. इसके साथ ही मेसी ने पुर्तगाल के स्टार फुटबॉलर क्रिस्टियानो रोनाल्डो को भी वर्ल्ड कप में गोल के मामले में पीछे छोड़ दिया है. मेसी के इस गोल की बदौलत अर्जेंटीना ने पहले हाफ में 1-0 की बढ़त बना ली थी.

Image Source: FIFA World Cup Twitter

इसके बाद दूसरे हाफ में एक बार फिर अर्जेंटीना ने अपना आक्रामक खेल दिखाया और 57वें मिनट में दूसरा गोल दागते हुए विजयी बढ़त बनाई. यह दूसरा गोल जूलियन अल्वारेज ने दागा था. हालांकि इसके बाद 77वें मिनट में अर्जेंटीना के एंजो फर्नांडीज ने आत्मघाती गोल कर दिया. यह गोल ऑस्ट्रेलियाई खाते में जोड़ा गया. ऑस्ट्रेलियाई टीम मैच में एक भी गोल नहीं दाग सकी. इस तरह ये मैच अर्जेंटीना ने 2-1 से जीत लिया.

मेसी ने नॉकआउट में पहली बार गोल किया

मेसी (Lionel Messi) ने अब तक अपने करियर में अर्जेंटीना, बार्सिलोना क्लब और पीएसजी क्लब के लिए कुल मिलाकर अब तक एक हजार मैच खेल लिए हैं. इस दौरान उन्होंने 789 गोल दागे और 338 असिस्ट किए हैं. मेसी ने वर्ल्ड कप के इतिहास में पहली बार नॉकआउट राउंड में गोल दागा है. 

इनके साथ ही ऑस्ट्रेलिया के लिए मैच में उतरने वाले गरंग कुओल ने भी इतिहास रच दिया है. वह 1958 के बाद वर्ल्ड कप के नॉकराउंड में खेलने वाले सबसे युवा प्लेयर बन गए हैं. कुओल की उम्र अभी (मैच खेलने तक) 18 साल और 79 दिन रही. जबकि इससे पहले 1958 में ब्राजील के महान फुटबॉलर पेले ने यह रिकॉर्ड बनाया था. तब पेले की उम्र 17 साल औऱ 249 दिन रही थी.

Also Read: मोहम्मद शमी के कंधे की चोट की फोटो हुई वायरल, भावुक हुए शमी


Download our App for more Tips and Tricks